mithilamirror@gmail.com
+919560295811

किसानक लहास पर गिद्ध बनल सम्बेदनहीन सत्तापक्ष आ विपक्ष

| महत्वपूर्ण खबरे

दिल्ली, मिथिला मिरर-रामबाबू सिंह: लोकतन्त्रमे सरकारक उदय आ अस्त होयत रहल अछि..सत्ताधारी दल होय या विपक्ष दुनूक सत्कर्म आ दुष्कर्मक परिणाम पांच बरखमे भेट जाएत छनि..सत्ता समयक सँग परिवर्तन होयत रहल मुदा जँ नहि परिवर्तन भेल तँ अन्नदाता किसानक भाग्य..ओकर भाग्यमे उदय जेना छैहे नहीँ… दुर्भाग्यबश दुनियाके भरण पोषण करनिहार किसान स्वयंके भरि पेट भोजन नहि भेट रहल छनि..विगत दिवस जन्तर मन्तर पर तमिलनाडूक किसानक वृतांत बुझले हएत जे कोना सरकारक धियान घिचबाक लेल अपने मुत पिबS पर विवश होम पड़लनि..तेलंगनाके किसानक मिरचाइके दाम एक टका में चौअन्नी रहि गेलाक कारणे पहिने अपनहि खेत फुकि देल आर तकरा बाद किछु गाड़ी घोड़ा दोकान सेहो फुकि देलक। मध्यप्रदेशमे जंगलके आगि जकाँ किसान आंदोलन पजरल जा रहल छैक..15 दिन सँ बेसी भेल जा रहल छैक…जतय पुलिसके उग्र आन्दोलित भीड़ पर नियंत्रण करय लेल गोली तक चलाबS पड़लनि जाहि सँ 6 गोट किसान मारल गेलाह..

किसानक व्यथा एहन अछि जँ सनचमन्च बेसिकS धरना दैत छथि तँ कतौ अकानल नहि जाइछ आ जँ उग्र भ जाएत अछि तँ मारल जाएत अछि…मुदा आब तँ स्थिति बेसी डराओन भेल जा रहल अछि..महाराष्ट्रके किसान सेहो सड़क पर फाँर बन्हने मरय मारय लेल उतारू भेल *ताला जड़ो आंदोलन* शुरू कS देलाह अछि जे नेता सभक कार्यालय आ घर पर जा सीधे ताला लगा बन्द करब…मुदा सत्ताधारीक अहि दारुण व्यथा सँ इतर केवल अजस लेल विपक्षक षड्यंत्र देखि अपन जिम्मेबारी सँ इतिश्री करबाक चेष्टा कS रहलाह अछि..वर्तमान सरकारके कहब छनि जे आंदोलन किसान नहि कोंग्रेस कS रहल अछि…किछु विडिओ साक्षय सेहो कोंग्रेसी नेताके सोसल साइट पर वायरल भ रहल अछि..जे अहि आगिमे घीके काज कS रहल अछि दुर्भागवश..मुदा आब तँ यएह राजनीतिक धर्म बनि गेल अछि जे विपक्ष मतलब रचनात्मक भूमिका नहि विघटनात्मक सोच चाहे ओ कियो होथि. युग कतय भेटत जहिया संसदमे नेहरू जी कहलखिन जे वाजपेयी जीक काज दक्षता शैली आ समर्पण एक दिन देशक प्रधानमंत्री अवश्य बनता आ वाजपेयी जी इंदिरा जीक विषयमे दुर्गाक स्वरूप..मुदा आब नेता एक दोसर सँग केवल राँरी बेटखौकि सँ आगू नहि बढ़ि पाबि रहलाह अछि. घृणा द्वेष ईष्र्याक राजनीति आब रहि गेल. सौहार्द प्रेम सम्बेदन सभ मरि गेल छनि.

तमिनलनाडू आंध्र प्रदेश महाराष्ट्र मध्य प्रदेश गुजरात संगहि देशक बेसी भूभाग पर किसानक हाल बेहाल अछि. फसलके वास्तविक दाम नहि भेट रहल छनि. जखन अस्तित्व पर प्रश्नचिन्ह आबि जाइछ तँ ओ अपन हाथ पएर छतपटेबे करताह जेकर समाधान करबाक जिम्मेदारी सत्ता पक्षक होइछ नहि की विपक्ष पर षड्यंत्रक आरोप लगा इतिश्री. ओना बड़का बड़का मंडी सभमे ई कॉमर्सक व्यवस्था कएल गेल अछि मुदा अहिं नवीन तकनीकी सँ खरीदS आ बेचय बाला दुनु अनभिज्ञ छथि.खरीदS बाला लग नगदी छैहे नहि आ नगदी तँ देशे सँ जेना हेरा गेल बुझु.किसान कर्जा लS फसल उपजाकS फँसि गेल छथि आब ओ अपन मालके अधिया पौना दाममे बेचि तबाह भ जाए आ बैंकके गुंडा ओकरा घरमे घुसि हाथापाई सँग ओकरा दिबलिया घोषित करय.किसान लग कोनो दोसर तरीका नहि सिबाय आंदोलनके मध्य प्रदेशक मंदसौर जिला धधकि रहल अछि.

तथ्यात्मक पक्ष जे मंदसौर संसदीय क्षेत्रमे 8 विधानसभा क्षेत्र अबैत अछि जाहिमे 7 पर भाजपा विधायक छेकने छथि. जिला पंचायत अध्यक्ष उपाध्यक्ष आ पाँचो जनपद पर सेहो संगहि 7 मे सँ 6 नगर परिषद आ मंदसौर नगर पालिका पर भाजपाक अधिकार छनि. 430 पंचायतमे सँ लगभग 330 पर भाजपा समर्थित सरपंच जमल छथि, त्तपश्चातो जँ कोनो दल किसान आंदोलनके साथ ठाड़ होममे कामयाब छथि तखन जरूर सत्ता पक्षक नाकामी कहल जा सकैए..तेँ आरोप मात्र लगायब किसानक समस्याक समाधान नहि अपितु अपन दौर्बल्यके नुकायब केवल कारण बुझना जाएत अछि..

किसान विकास क्रेडिट कार्ड हो या किसान विकास पत्र या कर्ज देबाक पद्धति सेहो अकर्मक आ अनर्गल सिद्ध होयत देखल जा रहल अछि…अहि फण्डके सदुयोग कम आ दुरुपयोग बेसी भ रहल अछि…एकर कारण पहिने तँ बिचौलिया कर्ज दिआबSके नामे मोटगर पाई घुसमे घिंच लैत अछि दोसर किसान मोफतके सरकारी माल बुझि खर्चकS ओझरा जाएत अछि.. ओना किसानक स्थिति कमोबेस सगरो दिस एकहि जकाँ बुझु मुदा जँ अहि चर्चमे मिथिला प्रदेशक किसानके नहि आनब तखन आलेख पुर नहि भ सकैए..कारण मिथिलाके एखनहुँ बड़का भूभाग किसानी पर निर्भर छैक..सरकारी उपेक्षाक तँ बाते छोड़ू , प्राकृतिक आपदा जेना कोसीक बाढि सभटा खेतक आरि कोन फसल संगहि भसिया दैत अछि. उजारि दैत अछि डीह डीहबार खेत खरिहान माल जाल या नहि तँ रौदी जरा दैत अछि मुदा चर्च एतय करब आवश्यक अछि जे एखन धरि संयमित जीवन यापन कS रहलाह अछि…कोनो प्रकारक आत्महत्याक खबरि कहिओ नहि सुनल गेल जखन कि देशमे एखनहुँ किसानक दारुण दशाक व्यथा सँग आत्महत्याक खबरि नित्य अबिते रहैए…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*